अतीत से वर्तमान – II. (7. सामाजिक सांस्कृतिक विकास / Samajik sanskritik vikas)

7. सामाजिक सांस्कृतिक विकास

Samajik sanskritik vikas

यहाँ वर्ग-7 के पुस्तक “अतीत से वर्तमान-2” के अध्याय-7. “सामाजिक सांस्कृतिक विकास(Samajik sanskritik vikas)” से कुछ महत्वपूर्ण अति लघु उत्तरीय प्रश्न-उत्तर लिया गया है जो कि कक्षा-7 तथा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी होंगे।

1. सिंध पर विजय किसने प्राप्त की ?
उत्तर- मोहम्मद बिन कासिम।

2. महमूद गजनी के साथ कौन सा विद्वान भारत आया था ?
उत्तर- अल बिरूनी।

3. भारत में कुर्ता पजामा का प्रचलन किन के आगमन से शुरू हुआ ?
उत्तर- मुसलमान।

4. अलवार और नयनार कहां के भक्ति संत थे ?
उत्तर- दक्षिणी भारत।

5. मोइनुद्दीन चिश्ती के दरगाह कहां पर स्थित है ?
उत्तर- अजमेर।

6. पंजाब में जब तुर्को ने अपनी सत्ता स्थापित की तो किस शहर को अपनी राजधानी बनाया था ?
उत्तर- लाहौर।

7. बिहार के पहले सूफी संत थे ?
उत्तर- इमाम-ताज-फकीह।

8. हलवा और समोसे जैसा स्वादिष्ट व्यंजन किस ने अपने साथ भारत लाया ?
उत्तर- पारसी।

9. फारसी, तुर्की, ब्रज एवं खड़ी बोली के मिश्रण से एक………. भाषा का निर्माण हुआ ?
उत्तर- उर्दू।

10. चरखा किसने लेकर भारत आया था ?
उत्तर- मुसलमान।

11. भक्ति आंदोलन के प्रमुख कारण थे ?
उत्तर- वैदिक रीति रिवाज, धार्मिक कांड का महंगा हो जाना, दलितों के साथ छुआछूत एवं महिलाओं की दुर्दशा।

12. अलवार संत ईश्वर के रूप में किसकी उपासना करते थे ?
उत्तर- विष्णु।

13. नयनार संत किसकी उपासना करते थे ?
उत्तर- शिव।

14. क्रमशः अलवर एवं नयनार संतों की संख्या थी ?
उत्तर- 12 15

15. अद्वैतवाद के सिद्धांत का प्रतिपादक कौन थे ?
उत्तर- शंकराचार्य।

16. किसने केवल परमेश्वर(ब्रह्म) को सत्य माना बाकी सारा संसार को झूठा ?
उत्तर- शंकराचार्य।

17. बद्रिकाश्रम(उत्तराखंड), श्रृंगेरी(तमिलनाडु), पुरी(उड़ीसा) एवं द्वारिका(गुजरात) इन चारों मठों को किसने स्थापित किया ?
उत्तर- शंकराचार्य।

18. किसने समाज के दलित वर्ग को भी ईश्वरीय आराधना के द्वारा भक्ति संदेश दिया ?
उत्तर- रामानुज।

19. वीरशैव आंदोलन (दक्षिण भारत में) के प्रणेता थे ?
उत्तर- बासवन्ना।

20. वीरशैव आंदोलन ने
उत्तर- मूर्ति पूजा का विरोध किया, निम्न जातियों एवं नारी के प्रति समतावादी विचार प्रस्तुत किया।

21. महाराष्ट्र में भक्ति आंदोलन के प्रणेता थे ?
उत्तर- नामदेव, तुकाराम, चोखमेला।

22. विष्णु का एक रूप जो श्री कृष्ण के रूप में पूजा जाता था ?
उत्तर- बिट्ठल स्वामी।

23. विट्ठल स्वामी के अनुयाई के रचनाओं को कहते हैं ?
उत्तर- अभंग।

24. रामानुज की भक्ति परंपरा को उत्तर भारत में लोकप्रिय बनाने का श्रेय जाता है ?
उत्तर- रामानंद को।

25. रामानंद के विचारों को किसने प्रसारित किया ?
उत्तर- कबीर।

26. कबीर किस धारा के संत हैं ?
उत्तर- निर्गुण।

27. रामानंद के शिष्य कितने वर्गों में विभक्त हो गए ?
उत्तर- दो।

28. शगुन संप्रदाय के प्रमुख संत थे ?
उत्तर- तुलसीदास।

29. वैष्णव धर्म की एक प्रमुख शाखा कृष्ण भक्ति की थी जिसमें कृष्ण को ………….. का अवतार माना जाता था ?
उत्तर- विष्णु।

30. मीराबाई चैतन्य महाप्रभु वल्लभाचार्य सूरदास एवं रसखान यह सभी किस संप्रदाय के अनुयाई थे ?
उत्तर- वैष्णव धर्म।

31. वैष्णव धर्म का प्रसार बंगाल में किसने किया ?
उत्तर- चैतन्य महाप्रभु।

32. कबीर के विचारों का संग्रह है ?
उत्तर- बीजक में।

33. साखी एवं शबद किसके दो भाग हैं ?
उत्तर- बीजक।

34. गुरु नानक के शिष्य कलाएं ?
उत्तर- सिख।

35. अंतर-जातीय विवाह पर भक्ति आंदोलन के कौन से प्रनेता ने बल दिया ?
उत्तर- गुरु नानक।

36. बिहार के संत दरिया साहेब को किसका अवतार माना जाता है ?
उत्तर- कबीर।

37. भारत में सबसे पहले सूफी खानकाह की स्थापना का श्रेय शिखरवर्दी सिलसिले के संत…………. को जाता है ?
उत्तर- बहाउद्दीन जकरिया।

38. सुहरवर्दी सिलसिले के संत विश्वास रखते थे ?
उत्तर- सुखमय जीवन, धर्मांतरण, राजनीति।

39. फुलवारी शरीफ खनका किस भाषा के शिक्षा का केंद्र है ?
उत्तर- अरबी फारसी।

40. औरंगजेब द्वारा लिखित कुरान की प्रति कहां पर सुरक्षित है ?
उत्तर- फुलवारी शरीफ।

41. चिश्ती सिलसिले की स्थापना अजमेर शरीफ में किसने की ?
उत्तर- मोइनुद्दीन चिश्ती।

42. बिहार में फिरदोसी सिलसिले के संतों में किसका विशेष महत्व है ?
उत्तर- मखदूम सर्राफुद्दीन यहिया मनेरी।

43. हजरत मखदूम सर्राफुद्दीन यहिया मनेरी की फारसी भाषा में प्रमुख संकलन है ?
उत्तर- मकतूबातें सदी, मकतूबातें दो सदी।

1. कहाँ, कब और कैसे ? 2. नए राज्य एवं राजाओं का उदय
3. तुर्क अफगान शासक 4. मुग़ल साम्राज्य
5. शक्ति प्रतीक के रूप में वास्तुकला किले एवं धार्मिक स्थल 6. शहर व्यापारी एवं कारीगर
7. सामाजिक सांस्कृतिक विकास 8. क्षेत्रीय संस्कृतियों का उल्लेख
9. 18वीं शताब्दी में नई राजनीतिक  संरचनाएं 10. हमारे इतिहासकार
Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top