लोकतांत्रिक राजनीति-I. (4. चुनावी राजनीति / Chunavi raajniti)

4. चुनावी राजनीति

Chunavi raajniti

यहाँ वर्ग-9 के पुस्तक “लोकतांत्रिक राजनीति(भाग-1)” के अध्याय-4. “चुनावी राजनीति(Chunavi raajniti)” से कुछ महत्वपूर्ण अति लघु उत्तरीय प्रश्न-उत्तर लिया गया है जो कि कक्षा-9 तथा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी होंगे।

1. लोकसभा एवं विधानसभा 5 वर्षों के बाद भंग हो जाती है उसके बाद जो चुनाव होती है उसे क्या कहा जाता है?
उत्तर- आम चुनाव।

2. किसी विशेष क्षेत्र में किसी सदस्य के मृत्यु या इस्तीफे के बाद जो चुनाव होता है उसे क्या कहा जाता है?
उत्तर- उपचुनाव।

3. मध्यावधि चुनाव को कहा जाता है?
उत्तर- आम चुनाव।

4. लोकसभा चुनाव में सीटों की संख्या है?
उत्तर- 543

5. बिहार विधानसभा में सीटों की संख्या है?
उत्तर- 243

6. चुनाव के उद्देश्य से देश को कई क्षेत्रों में जनसंख्या के हिसाब से बांट दिया जाता है जिसे कहा जाता है?
उत्तर- निर्वाचन क्षेत्र।

7. विधानसभा के द्वारा चुने का प्रतिनिधि को क्या कहा जाता है?
उत्तर- एम. एल. ए.

8. वार्ड पार्षद के निर्वाचन क्षेत्रों के लिए आम बोलचाल में क्या कहा जाता है?
उत्तर- सीट।

9. लोकसभा में कितनी सीटें अनुसूचित जातियों के लोगों के लिए आरक्षित है?
उत्तर- 79

10. अनुसूचित जातियों के लिए बिहार विधानसभा में कितने सीट है?
उत्तर- 37

11. राजनीतिक दल द्वारा मनोनयन को बोलचाल की भाषा में क्या कहा जाता है?
उत्तर- टिकट।

12. ‘गरीबी हटाओ’ का नारा किसने दिया था?
उत्तर- कांग्रेस।

13. 1977 में किस पार्टी ने ‘लोकतंत्र बचाओ’ का नारा दिया था?
उत्तर- जनता पार्टी।

14. ‘तेलुगु स्वाभिमान’ का नारा 1983 में किसने दिया?
उत्तर- आंध्र प्रदेश।

15. जमीन जोतने वाले के हक का नारा किसने दिया था?
उत्तर- पश्चिम बंगाल।

16. निर्वाचन आयोग की नियुक्ति भारत के…………. करते हैं?
उत्तर- राष्ट्रपति।

17. खुली राजनैतिक प्रतिद्वंद्विता का अर्थ है?
उत्तर- सभी को पार्टियां या चुनाव लड़ने की आजादी।

1. लोकतंत्र का क्रमिक विकास2. लोकतंत्र क्या और क्यों?
3. संविधान निर्माण4. चुनावी राजनीति
5. संसदीय लोकतन्त्र कि संस्थाएं6.लोकतांत्रिक अधिकार
Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top