गोधूलि – II(गद्द खण्ड). (8. जित-जित में निरखत हूं / Jit jit me nikharta hun)

8. जित-जित में निरखत हूं

Jit jit me nikharta hun

यहाँ वर्ग-10 के पुस्तक “गोधूलि-2(गद्द खण्ड)” के अध्याय-8. “जित-जित में निरखत हूं(Jit jit me nikharta hun)” से कुछ महत्वपूर्ण अति लघु उत्तरीय प्रश्न-उत्तर लिया गया है जो कि कक्षा-10 तथा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी होंगे।

1. बिरजू महाराज खुद को किसका शागिर्द मानते थे?
उत्तर- पिता का।

2. बिरजू महाराज के गुरुवाइन कौन थी?
उत्तर- उनकी मां।

3. बिरजू महाराज एवं उनके पिता किस राज दरबार में नाचते थे?
उत्तर- रामपुर।

4. पंडित बिरजू महाराज का जन्म कहां हुआ था?
उत्तर- लखनऊ।

5. पंडित बिरजू महाराज को शिष्यत्व का धागा किसने बांधा?
उत्तर- उनके पिता ने।

6. बिरजू महाराज ने कहां रहते हुए सीताराम बागला को नृत्य की शिक्षा देनी शुरू की?
उत्तर- कानपुर।

7. बिरजू महाराज कौन सा वाद्य यंत्र बजाते थे?
उत्तर- सितार, गिटार, हारमोनियम।

8. पंडित बिरजू महाराज को संगीत नाटक अकादमी अवार्ड कब मिला?
उत्तर- 1965

9. बिरजू महाराज के पिता जी की मृत्यु किस कारण हुई?
उत्तर- लू से।

10. नृत्य की शिक्षा के लिए पहले पहल बिरजू महाराज किस संस्था से जुड़े?
उत्तर- हिंदुस्तानी डांस म्यूजिक, दिल्ली।

11. हिंदुस्तानी डांस म्यूजिक कहां है?
उत्तर- दिल्ली।

12. बिरजू महाराज के पिता की मृत्यु किस उम्र में हुई?
उत्तर- 54 वर्ष।

13. बिरजू महाराज अपना सबसे बड़ा जज किसको मानते थे?
उत्तर- मां को।

14. प्रसिद्ध नर्तक शंभू महाराज, बिरजू महाराज के कौन थे?
उत्तर- चाचा।

15. पंडित बिरजू महाराज……… साल के थे तभी उनके पिता का देहावसान हो गया?
उत्तर- साढे 9 वर्ष।

16. बिरजू महाराज को किस उम्र में संगीत नाटक अकादमी अवार्ड मिला था?
उत्तर- 27 वर्ष।

17. पंडित बिरजू महाराज का जन्म कब हुआ था?
उत्तर- 1938

18. बिरजू महाराज का संबंध किस घराने से है?
उत्तर- लखनऊ।

19. बाबूजी के साथ बिरजू महाराज का आखिरी प्रोग्राम कहां हुआ था?
उत्तर- मैनिपुरी।

20. पंडित बिरजू महाराज का संबंध नृत्य की किस शैली से है?
उत्तर- कथक।

21. बिरजू महाराज किस शैली के नर्तक थे?
उत्तर- कथक।

22. महाराज की ख्याति किस रूप में है?
उत्तर- नर्तक।

23. रश्मि वाजपेई किस पत्रिका की संपादिका है?
उत्तर- नटरंग।

24. ‘जित-जित मै निरखत हूं’ पाठ साहित्य की कौन सी विधा है?
उत्तर- साक्षात्कार।

25. ‘जित-जित मै निरखत हूं’ पाठ में बिरजू महाराज के साथ संवाद किसने किया है?
उत्तर- रश्मि बाजपेई।

गोधूलि – II (गद्द खण्ड)

1. श्रम विभाजन और जाति प्रथा2. विष के दांत
3. भारत से हम क्या सीखें4. नाखून क्यों बढ़ते हैं
5. नागरी लिपि6. बहादुर
7. परंपरा का मूल्यांकन8. जित-जित मै निरखत हूं
9. आविन्यों10. मछली
11. नौबतखाने में इबादत12. शिक्षा और संस्कृति
Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top